आज हम आपको बताएँगे कि antrashtriy yog divas 2021 ki theme kya hai? क्योकि google के माध्यम से लोग इन्टरनेट पर लोग “अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस 2021 की थीम क्या है?” इसके बारे में पूछ रहे है, तो आज हम आपको आपको बताएँगे कि 2021 की International Yoga Day की थीम क्या है? तो चलिए पढ़ते है.

जैसा कि आपको बता दूँ कि हरेक साल “21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day ) मनाया जाता हैं. और यहाँ की मान्यता ये भी है कि मानव सभ्यता की शुरुआत से ही योग किया जा रहा है.

11 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा (United Nations General Assembly) ने हर साल 21 जून का दिन इंटरनेशनल योग दिवस के तौर पर मनाए जाने की घोषणा की थी.

अन्तर्राष्ट्रीय योग दिवस 2021 की थीम क्या है? – Antrashtriy yog divas 2021 Ki theme Kya hai

हरके साल 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है और इस बार सभी लोग antrashtriy yog divas 2021 ki theme kya hai जाना चाहते है. इसलिए आपको पूरा अर्तिल्स पढना होगा.

Yog पर उसके महत्व को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के लिए साल 2015 में International Yoga Day की शुरुआत हुआ था. और 21 जून को साल का 7वां योग दिवस मनाया जा रहा है.

योग हमारे जीवन में अहम भूमिका निभाता है जो हारे स्वास्थ के लिए बहुत ही लाभकारी साबित होता हैं. Covid-19 की महामारी में लोग योगा को सबसे अधिक प्राथमिकता देने लगे है जो हमारे और आपके स्वास्थ के लिए बेहद लाभप्रद होता हैं. यहाँ दुनिया भर में कोविड की रिकवरी प्राप्त होने के बाद भी लोगों ने योगा को मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ को बनाने में मदद मिल रही है.

antrashtriy yog divas, Antrashtriy yog divas ki theme kya hai, yog divas, yog divas kab manaya jata hai, yog ka mahatv, yoga divas, yoga divas 2021
Antrashtriy yog divas ki theme kya hai, 2021

21 जून को Antrashtriy Yog divas क्यों मनाया जाता है?

योगा दिवस 21 जून को क्यों मनाया जा है इसका कुछ खाश वजह हो सकते है, हमारे भारतीय संस्कृति के को देखते हुए ग्रीष्म संक्रांति के बाद सूर्य दक्षिणायन हो जाता है. और इसी दिन उत्तरी गोलार्ध पर सबसे अधिक सूर्य की किरण पहुचती या पड़ती है.

और साल के 365 दिनों में से 21 जून को साल का सबसे बड़ा दिन भी होता है. 21 june के दिन सूर्य जल्दी उगता है और थोड़ा देर से डूबता है. और ये भी कहा जाता है कि इस दिन सूर्य का रौशनी का तप सबसे ज्यादा प्रभावीशाली होता है. तो इसी वजह से 21 जून को ‘International Yoga Day’ के रूप पर मनाया जाता है.

सबसे पहला योग दिवस कब मनाया गया था?

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने की शुरुआत सबसे पहले साल 2015 में हुई थी.11 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा (UN) ने 21 जून को योग दिवस की घोषणा की थी.तब से भारत समेत पूरी दुनिया इस दिन को ‘विश्व योग दिवस’ के रूप में मनाती है.

जैसा कि आपको बता दूँ कि सबसे पहला अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस साल 2015 में मनाया गया था. और फिर 11 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा (UN) ने 21 june को योग दिवस की घोषणा कर दी थी.

Aaj ka Antrashtriy yog divas 2021 ki theme kya hai?

इस बार coronavirus के महामारी को ध्यान में रखते हुए कुछ इस प्रकार के थीम बनायीं गयी हैं. जो लोगो के सुरक्षा और सेहत दोनों का सुरक्षित रखेगी.

इस Antrashtriy yog divas 2021 ki theme के बिच social distancing भी बनी रहें इसलिए इस वाले antrashtriy yog divas के लिए “‘Be with Yoga”, “Be at Home” जिसका मतलब ‘योग के साथ रहें’ घर पर रहें थीम बनायीं गयी हैं

Yog का महत्व क्या है?

वैसे तो योग का जन्म भारत से हुआ है इसमें कोई दुराई नही है, योगा एक ऐसा वरदान है एक ऐसा कार्य है जिसे प्रतिदिन करने से इंसान स्वस्थ्य रहने के साथ सकारात्मक ऊर्जा से भर उठता है.

योग एक विज्ञान है जो कसी भी व्यक्ति के क शारीरिक और भावनात्मक तौर पर प्रभावी और मजबूत बनाता है. आज के इस आधुनिक युग में तनाव और चिंता को कम करने के लिए लोग योगा को अधिक प्राथमिकता देते है. और यहाँ योग के लिए के स्लोगन भी है ” करो योग रहो निरोग” ये बिलकुल सच है.

आशा करते है कि आपको ये जानकारी जरुर पसंद आया होगा. इसे आप अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते हैं और अन्य जानकारी के लिए हिंदी सोफ्टोनिक को फॉलो जरुर करने. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here