हिंदी भाषा की लिपि क्या हैं? Hindi Bhasha Ki Lipi Kya Hai

devnagari, hindi bhasha ki lipi, lipi kya hai, हिंदी भाषा की लिपि क्या हैं

क्या आप हिंदी भाषा की कि लिपि के बारे में जानते है. यदि आप के भारतीय हो आपको इसके बारेमें जरुर पता होगा कि Hindi Bhasha ki lipi kya hai? यह जानना बहुत जरुर है, क्योकि अक्सर परीक्षा लोग जब हिंदी मीडियम का exam देते है तो उन्हें अपनी paper में हिंदी भाषा कि लिपि का चुनाव करना होता हैं. इसलिए विद्यार्थी अपनी मात्री भाषा “हिंदी भाषा की लिपि का क्या नाम है?” ये जानना बहुत जरूरी है आइये इस लेख में आपको बताते है कि Hindi Bhasha ki lipi kya hota hai?

यहाँ “Hindi Bhasha ki lipi kya hai” इसको समझने से पहले आपको लिपि क्या है इसके बारे में समझना होगा. आइये पढ़ते हैं. क्योकि जब तक आप लिपि का सही अर्थ नही समझेंगे, आपको हिंदी भाषा के लिपि का कार्य और अर्थ समझने में थोड़ा मुश्किल हो सकता हैं. 

लिपि किसे कहते हैं? (lipi kise kahate hain )

किसी भी भाषा की लिखावट अथवा उस भाषा के लिखने के ढंग को लिपि कहते है.

दुसरे शब्दों में “ ध्वनियों को शुद्ध तरीके से लिखने के लिए जिस प्रकार के चिह्नों का प्रयोग किया जाता है, वही लिपि कहलाती  हैं. और प्रत्येक ध्वनि के लिए हिंदी भाषा में चिन्ह निश्चित हैं. और उनका उपयोग वर्णों को दर्शाने के लिए  किया जाता हैं.

हम भाषा उसे कहते है जिसे बोली जाती हैं. और भाषा को किसी भी लिपि में लिखी जा सकती हैं. और जिसमे ध्वनी को लिखा जाता है उसे लिपि कही जाती हैं.

तो आपने समझा की लिपि क्या होता है,अब आपको बताते है हिंदी भाषा की लिपि किसे कहते हैं?  (Hindi Bhasha Ki Lipi Kya Hai) और हिंदी भाषा की लिपि किस लिपि में लिखी जाती हैं.  निचे पढ़े.


हिंदी भाषा की लिपि क्या हैं? |Hindi Bhasha Ki Lipi Kya Hai

हिंदी भाषा की लिपि को “देवनागरी” लिपि कहते हैं. और इसे सबसे पहले “ब्राह्मी लिपि ” के नाम से भी जाना जाता था.  तथा देवनागरी का दूसरा नाम “नागरी लिपि” भी हैं.

भारत में प्रयोग होने वाले हिंदी भाषा के अलावे देवनागरी लिपि को संस्कृत, गुजराती, मैथेली, सिन्धी, भोजपुरी, नेपाली भाषाओं में भी प्रयोग किया जाता हैं.

देवनागरी लिपि (Devnagri lipi) लिखने और पढ़ने में बहुत ही आसान होता है. इसे बाएं से दाएं की ओर लिखी और पढ़ी जाती हैं.  जिसे इसका इस लिपि का इस्तेमाल करना बहुत ही सरल और सुन्दर हो जाता हैं.

देवनागरी लिपि में लिखे गये सभी शब्दों को पूरा करने के लिए शब्दों  के ऊपर एक क्षैतिज रेखा खींची जाती हैं. जिसे ” शिरोरेखा” कहा जाता हैं. इस लिपि में कुल 52 अक्षर होते है जिसे स्वर और व्यंजन होते हैं. स्वरों की संख्या 14 है और व्यंजनों की संख्या 38 होती हैं. हिंदी भाषा में लिखे जाने वाले शब्द स्वरों और व्यंजनों के मेल से बनते है.

इस देवनागरी लिपि एक वैज्ञानिक लिपि  और व्यापक लिपि के नाम से भी जाना जाता हैं. और हमारे देश भारत में ऐसे बहुत सारे भाषाएँ उपलब्ध है जो देवनागरी से सामान होती है मतलब कि मिलती जुलती हैं.  और देवनागरी लिपि लिखी जाने वाली हिंदी भाषा को google translate की मदद से किसी अन्य भाषा जैसे अंग्रेजी, मैथली, उर्दू, फर्शी और अन्य भाषाओं में परिवर्तित किया जा सकता हैं.


Q1. हिंदी भाषा की लिपि का क्या नाम है?

Ans- हिंदी भाषा की लिपि का नाम “देवनागरी ” लिपि हैं.


Conclusion 

आपने समझा की “देवनागरी हिंदी भाषा की लिपि कहलाती है” और इसे नागरी लिपि, ब्राह्मी लिपि, और प्राचीन और वैज्ञानिक दृष्टी से पूर्ण लिपि भी कही जाती हैं. जिसे बाएं से दाएं की ओर लिखा और पढ़ा जाता हैं. इसका उच्चारण स्पष्ट और पूर्णत: सरल होता हैं. 

Gupta Ko Kabu Kaise Kare

यदि आपको पोस्ट के माध्यम से कुछ नया जानकारी मिली है तो आप पढ़ाई करने वाले लड़कों के साथ आर्टिकल को शेयर कर सकते हैं. और साथ ही साथ हमें सोशल मीडिया, Facebook, instagram, Koo app और google news पर भी फॉलो कर सकते हैं. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *