Palamu ka kila kis rashtriya udyan kshetra mein hai

palamu kila,
palamu-kila

Palamu ka kila kis rashtriya udyan kshetra mein hai – पलामू का किला किस राष्ट्रीय उद्यान क्षेत्र में है

पलामू का किला झारखंड के लातेहार जिले में स्थित है। इसका मुख्यालय मेहंदीनगर है। पलामू एक सुस्थापित शहर था। इसमें कई भव्य बाजार थे। और इसकी रक्षा के लिए दो मजबूत किले थे। ये किले ईंट और पत्थर से बने थे। उनकी डेढ़ मीटर चौड़ी बाहरी दीवारों पर हर तरफ तोप के गोले के निशान थे। नए किले में सुंदर नक्काशी वाला एक बड़ा द्वार भी था। जिसे नागपुरी गेट कहा जाता था। दोनों दुर्गों में कुएँ थे। जिससे किले में रहने वाले सैनिकों को पानी की कोई कमी नहीं हुई। किले के बगल में ओरंगा नदी बहती थी। और किले के चारों ओर पहाड़ और जंगल थे।

palamu kila,
palamu-kila

पलामू अभ्यारण कहां है – राष्ट्रीय अभयारण्य पलामू में स्थित है। इसका अभयारण्य 250 किलोमीटर में फैला है जिसमें वन्यजीव अभयारण्य का क्षेत्रफल 980 किमी. पलामू रिजर्व के प्रमुखता में आकर्षण बाघ, हाथी, तेंदुआ, गौर, सांभर और चीतल जैसे अन्य चीजे भी शमिल हैं।

पलामू का इतिहास

पलामू ज़िला भारत के झारखंड राज्य का एक ज़िला है। इसका जिला मुख्यालय मेदनीनगर है। पहले इसे डाल्टनगंज के नाम से जाना जाता था लेकिन आनंद मार्ग के लक्ष्मण सिंह, बैद्यनाच साहू, युगल किशोर सिंह, विश्वनाथ सिंह जैसे लोगों ने लंबे समय तक आंदोलन किया और शहर का नाम मेदनीनगर रखा गया।

इंदर सिंह नामधारी, ज्ञानचंद पांडे, शैलेंद्र, केडी सिंह आदि यहां के प्रमुख राजनेता हैं। आलोक प्रकाश पुतुल ने पत्रकारों के बीच अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लोकप्रियता हासिल की है। अन्य पत्रकारों में रामेश्वरम, गोकुल बसंत, फैयाज अहमद, उपेंद्र नाथ पांडे, अरुण कुमार सिंह आदि शामिल हैं। साहित्य और कविता जगत में बिंदु माधव शर्मा, विद्या वैभव भारद्वाज और अभिनव मिश्रा ने पलामू का नाम रोशन किया है।

FAQ – Palamu Kila

पलामू किला स्थित है?

  • पलामू झारखंड राज्य के जिला मुख्यालय मेदनीनगर से 23 किमी दक्षिण-पूर्व में घने जंगलों के बीच, कोयल नदी की एक सहायक औरंगा नदी के तट पर स्थित है।

इतिहासकारो के अनुसार किले का निर्माण का नीव किस वंश के राजा ने रखा?

  • इतिहासकारो के अनुसार, किले का निर्माण का प्रारंभ माहोर राजा ने किया था

चेरो राजा किस राजा को हरा कर पलामू किले पर अधिकार किया?

  • चेरो राजा भागवत राय ने उसे हरा दिया और पलामू किले पर कब्जा कर लिया।

चेरो जनजाति किसके वंशज मानते है?

  • चेरो जनजाति च्यवन ऋषि का वंशज मानते हैं

चेरो राजाओ में शक्तिशाली राजा था?

  • चेरो राजाओ में शक्तिशाली राजा मेदनी राय था.
About Hindisoftonic 325 Articles
i am Vicky kumar.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


14 − ten =