संविधान दिवस कब मनाया जाता है? Samvidhan Divas Kab Manaya Jata Hai

Sanvidhan divas kab manaya jata hai
Sanvidhan divas kab manaya jata hai

आज के इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे संविधान दिवस कब मनाया जाता है और क्यों मनाया जाता है, samvidhan divas kab manaya jata hai bharat mein,Constitution Day in hindi, संविधान दिवस क्यों मनाया जाता है ऐसे बहुत सारे सवालों के जवाब इसी पोस्ट में देखने को मिलेगा. जिसे आप आसानी से पढ़ कर समझ सकते हैं. इसी में मुख्य सवाल यह भी है कि भारत का संविधान कितने पेज का है और भारत का संविधान कब लागू हुआ. सब कुछ बताएँगे इसलिए पोस्ट को जरुर पढ़े.

सवाल – संविधान दिवस कब मनाया जाता है? Samvidhan Divas Kab Manaya Jata Hai

उत्तर – 26 नवंबर को भारतीय संविधान दिवस के रूप मनाया जाता है. भारत गणराज्य का संविधान 26 नवम्बर 1949 को बनकर तैयार हुआ .

संविधान दिवस कब मनाया जाता है और क्यों मनाया जाता है

  • संविधान दिवस 26 नवंबर को मनाया जाता है और यह भारत गणराज्य का संविधान 26 नवंबर 1949 को तैयार हुआ था.
  • संविधान दिवस 26 नवंबर 2015 को संविधान सभा के अध्यक्ष डॉ भीमराव अंबेडकर की 125वीं जयंती वर्ष के रूप में मनाया गया.
  • डॉ. भीमराव अंबेडकर जी ने 26 नवंबर 1949 को 2 साल 11 महीने 18 दिन में भारत के महान संविधान को पूरा किया और राष्ट्र को समर्पित किया.
  • गणतंत्र भारत में संविधान 26 जनवरी 1950 से लागू हुआ.
  • भारत सरकार द्वारा 2015 के बाद पहली बार 26 नवंबर को डॉ भीमराव अंबेडकर के इस महान योगदान के रूप में “संविधान दिवस” मनाया गया.
  • 26 नवंबर का दिन संविधान के महत्व को फैलाने और डॉ भीमराव अंबेडकर के विचारों और अवधारणाओं को फैलाने के लिए चुना गया था.

संविधान दिवस के बारे में कुछ बताइए | Samvidhan divas in hindi

Sanvidhan divas kab manaya jata hai
Sanvidhan divas kab manaya jata hai

भारत गणराज्य का संविधान 26 नवंबर 1949 को तैयार किया गया था. 26 नवंबर 2015 को संविधान सभा की मसौदा समिति के अध्यक्ष डॉ. भीमराव अंबेडकर की 125वीं जयंती वर्ष के रूप में, पहली बार संविधान दिवस मनाया गया था. भारत सरकार द्वारा पूरे भारत में और 26 नवंबर 2015 से हर साल पूरे भारत में संविधान दिवस मनाया जा रहा है. पहले इसे राष्ट्रीय कानून दिवस के रूप में मनाया जाता था. संविधान सभा ने 26 नवंबर 1949 को भारत के संविधान को 2 साल 11 महीने 18 दिनों में पूरा किया और इसे राष्ट्र को समर्पित किया. गणतंत्र भारत में संविधान 26 जनवरी 1950 से लागू हुआ.

संविधान दिवस’ (Constitution Day) कई दशक पहले से भारतीयों द्वारा मनाया जाता है. डॉ. भीमराव अम्बेडकर के महान योगदान के रूप में, भारत सरकार द्वारा पहली बार 26 नवंबर 2015 को “संविधान दिवस” ​​मनाया गया था और हर साल 26 नवंबर 2015 से पूरे भारत में संविधान दिवस मनाया जा रहा है. 26 नवंबर का दिन संविधान के महत्व को फैलाने और डॉ भीमराव अंबेडकर के विचारों और अवधारणाओं को फैलाने के लिए चुना गया था. इस दिन संविधान निर्माण समिति के वरिष्ठ सदस्य डॉ. सर हरिसिंह गौर का जन्मदिन भी होता है.

FAQ – Samvidhan divas in hindi

पहला संविधान दिवस कब मनाया गया?

पहला संविधान दिवस 26 नवम्बर 2015 को को मनाया गया था. और अब 26 नवम्बर 2015 से प्रत्येक वर्ष सम्पूर्ण भारत में संविधान दिवस मनाया जा रहा है.


26 नवंबर को भारतीय संविधान दिवस के रूप में क्यों मनाया जाता है

डॉ. भीमराव अम्बेडकर के महान योगदान के रूप में 26 नवंबर को भारतीय संविधान दिवस मनाया जाता हैं. भारत के नागरिकों को संविधान के प्रति जागरूक करने और उन्हें संवैधानिक मूल्यों की याद दिलाने के लिए हर साल 26 नवंबर को संविधान दिवस मनाया जाता है.


भारतीय संविधान कब लागू हुआ

26 जनवरी 1950 को संविधान लागू हुआ. तब से इस दिन गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है. भारत की स्वतंत्रता के बाद, संविधान सभा का गठन किया गया. 9 दिसंबर 1946 को संविधान सभा ने अपना काम शुरू किया.

About Hindisoftonic 324 Articles
i am Vicky kumar.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*