सिम कार्ड का दूसरा नाम क्या है Sim card ka dusra naam kya hai

Sim card ka dusra naam kya hai
Sim card ka dusra naam kya hai

सिम कार्ड एक ऐसा यंत्र है जिसके माध्यम से आप एक दुसरे से कनेक्ट होते है. और लोग के मन ये सवाल आता रहता है कि sim card ka dusra naam kya hai और यह गूगल पर पूछते रहते है, सिम कार्ड का हिंदी नाम क्या हैं. बहुत सारे लोग आपको सिम कार्ड का दूसरा नाम उसके full form को बताते हैं. लेकिन full form दूसरा नाम नही बल्कि पूरा नाम होता है.

सिम कार्ड का दूसरा नाम क्या है | Sim card ka dusra naam kya hai

सिम एक एकीकृत सर्किट है जो international mobile subscriber identity (IMSI) को सुरक्षित रूप से संग्रहीत करता है. यह एक portable memory chip है जो आपको दुनिया भर में फोन कॉल करने में सक्षम बनाती है जहां ग्राहक का नेटवर्क उपलब्ध है.

सिम आमतौर पर मोबाइल फोन में उपयोग किया जाता है जो GSM network पर काम करता है. यह पोर्टेबल है और आप इसे किसी भी सपोर्टिंग मोबाइल फोन के साथ इस्तेमाल कर सकते हैं.

सिम कार्ड पूरा नाम (Full Form) Subscriber Identity Module या Subscriber Identification Module. इसे हिंदी में ग्राहक पहचान मॉड्यूल के नाम से जाना जाता हैं.

सिम कार्ड का दूसरा नाम मतलब पूरा नाम सब्सक्राइबर आइडेंटिटी मॉड्यूल (subscriber identity module) होता है. इसे हिंदी में ग्राहक पहचान मॉड्यूल के नाम से भी जाना जाता है.

Sim card ka dusra naam kya hai
Sim card ka dusra naam kya hai

SIM CARD Full Form kya hota hai – सिम कार्ड का फुल फॉर्म Subscriber Identification Module Card होता है.

Sim Full-Form in English – Subscriber Identity Module or Subscriber Identification Module

sim full form in Hindi – सब्सक्राइबर आइडेंटिटी मॉड्यूल या सब्सक्राइबर आइडेंटिफिकेशन मॉड्यूल (ग्राहक पहचान मॉड्यूल)

सिम का हिंदी अर्थ – यहाँ सिम कार्ड का हिंदी में अर्थ ग्राहक पहचान मॉड्यूल होता है.

सरल शब्दों में, सिम कार्ड का उद्देश्य अपने ग्राहक की पहचान करना और उसे नेटवर्क सुविधाएं प्रदान करना है। यह एक तरह का छोटा सर्किट होता है जो ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करता है, जो सैटेलाइट से जुड़ा होता है और मोबाइल फोन पर सिग्नल भेजने का काम करता है। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि एक सिम कार्ड सिर्फ जीएसएम फोन पर ही काम करता है.

सिम कार्ड में एक unique serial number, international customer identification number, आदि होता है, जिससे नेटवर्क का पता लगाया जाता है, साथ ही सिम कार्ड के सामान्य उपयोग के लिए एक PIN भी होता है, जिसे कोई भी ग्राहक अपना सिम लॉक करना चाहता है तब वे Unlock या Unblock कर सकते हैं.

सिम कार्ड कितने प्रकार के होते है? (Types of Sim Card in Hindi)

सामान्य तौर पर एक सिम 4 प्रकार की होती है, जिसमें से full size sim, mini sim, macro sim, nano sim होता है. लेकिन फिलहाल ज्यादातर मोबाइल फोन नैनो सिम का इस्तेमला होने लगा है. लगभग सभी smartphone में नानो सिम का उपयोग किया जाने लगा हैं. लेकिन Keypad वाला मोबाइल या बटन वाले फोन हैं, जिनमें आज भी mini sim का इस्तेमाल होता है.

Sim Card ke Prakar Kya hai

Full size sim: – यह सिम एक क्रेडिट कार्ड के साइज की होती है, जिसमें सिम को पूरी तरह से काट दिया जाता है ताकि इसे Mini SIM का साइज दिया जा सके.

Mini SIM:- यह सिम भी बड़ी होती है, लेकिन बड़े सिम से काटी जाती है, इसका उपयोग Keypad वाले मोबाइल में किया जाता है.

Macro SIM:- इसका भी कुछ दिनों तक बाजार में इस्तेमाल हुआ. अभी भी कई ऐसे हैं जिनमें इस साइज के सिम इस्तेमाल किए जाते हैं. लेकिन ऐसा लगता है कि यह लंबे समय तक उपयोग में नहीं होने वाला हैं.

Nano SIM:- ज्यादातर स्मार्ट फोन में इस समय ज्यादातर सिम का ही इस्तेमाल किया जा रहा है, इसका कारण आकार है, जितना अधिक मोबाइल का आकार घटेगा, इस सिम का उपयोग लगातार बढ़ता जाएगा.

Read more

Conclusion

आज आपने जाना की सिम कार्ड का दूसरा नाम क्या है ( what is the another name of sim card ).और एक सिम कार्ड कितने प्रकार के होते है और कैसे काम करते है. इसके साथ साथ आपको ये भी बताया कि SIM card का दूसरा नाम ग्राहक पहचान मॉड्यूल होता हैं.

आशा करते है आपको इन सभी सवालों के जवाब आपको प्राप्त हुआ है. इसे आप अपने दोस्तों के साथ शेयर करे और sim card से जुड़े जानकारी के लिए हमें कमेंट कर बताएं.

About Hindisoftonic 325 Articles
i am Vicky kumar.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*


five + 6 =