State Specific ID Kya Hai In Hindi (Uttar Pradesh, Bihar के अलावा किस राज्यों में मान्य है

State Specific ID Kya Hai In Hindi (Uttar Pradesh, Asam, Madhya pradesh)
State Specific ID Kya Hai In Hindi (Uttar Pradesh, Asam, Madhya pradesh)

State Specific ID Kya Hai In Hindi (Uttar Pradesh,bihar, Asam, Madhya Pradesh): आज के इस पोस्ट में आपको State specific id के बारे में जानकारी मिलेगा. जिसका होना सभी के लिए गर्व की बात हैं. और आज के ज़माने में इसकी जरूरत भी पड़ जाता हैं. पहले इसकी कोई ज्यादातर खोज खबर नही था. लेकिन आज state specific Id का काम कभी भी लग सकता हैं. इसलिए आज के इस पोस्ट में आपको ‘स्टेट स्पेसिफिक आईडी क्या होती है (what is state specific Id )’ और किसी राज्य में e Shram card बनाते समय या कोई भी Id बनाते टाइम यह क्यों जरूरी होता हैं.

State Specific ID Kya Hai?

आपको बता दे कि यदि आप बिहार, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश और अन्य राज्य में अपने डॉक्यूमेंट को बनवाने के लिए स्टेट स्पेसिफिक आईडी होना चाहिए. इससे आप उस राज्य के निवासी सिद्ध होंगे. यह state specific id एक प्रमाण के रूप में होता हैं.

स्टेट स्पेसिफिक आईडी (State specific id) एक पहचान पत्र है जो किसी राज्य के निवासी होने का प्रमाण होता हैं. यह ID सिद्ध करता है कि आप उस राज्य के निवासी है. इसे State Specific id कहा जाता हैं. यह बिलकुल राशन कार्ड (NFSA Card) , संभल कार्ड आदि के जैसे होता हैं.

“State Specific ID का मतलब वह आईडी है जो यह साबित करती है कि आप उस राज्य के निवासी हैं. यह ID बताती है कि आप उस राज्य में कितने साल से रह रहे हैं. यह राशन कार्ड (NFSA Card), संभल कार्ड आदि की तरह है. यह राज्य विशिष्ट आईडी (State Specific Id) प्रमाण के रूप में है. तो ऐसे दस्तावेज़ को State Specific ID कहा जाता ह. जैसे राशन कार्ड ((NFSA Card), संभल कार्ड आदि.”

State Specific ID meaning in Hindi

State Specific ID Kya Hai In Hindi (Uttar Pradesh, Asam, Madhya pradesh)
State Specific ID Kya Hai In Hindi (Uttar Pradesh, Asam, Madhya pradesh)

State specific id का मतलब, किसी राज्य का नागरिक प्रमाणित करना होता है कि आप उस स्टेट में कई वर्षो से रह रहे है. यदि आपके पास एक राशन कार्ड है तो इससे सिद्ध होता है कि आप उस राज्य में कई वर्षों से कोटा ले रहे है.

State Specific ID आपके उस राज्य में होने का प्रमाण देता है. एक नार्मल डॉक्यूमेंट जैसे ड्राइविंग लाइसेंस , वोटर आईडी इत्यादि किसी व्यक्ति के व्यक्तिगत पहचान के लिए ज्यादा महत्वपूर्ण होता हैं.

Normal Documents और State Specific ID में अंतर

Normal Documents State Specific ID
Normal Documents के अंतर्गत ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी, आधार कार्ड  इत्यादि आते हैं. यह ID आपके उस राज्य में होने का प्रमाण देता है. की आप उस स्टेट में कितने वर्षो से रह रहे है.
ये दस्तावेज व्यकिगत प्रमाण को दर्शाता है State Specific ID राज्य में होने का पहचान हैं.

इसे पढ़े  – 

मनेस्टी इंटरनेशनल क्या है | Amnesty international kya hai

Galaxy Card क्या है, और Galaxycard app से Credit Card कैसे बनाये – जानिए

State Specific ID किस राज्यों में मान्य है

यहाँ State Specific ID लगभग-लगभग सभी राज्यों में मान्य है.

No. Hindi English
1. आंध्र प्रदेश Andhra Pradesh
2. अरुणाचल प्रदेश Arunachal Pradesh
3. असम Assam
4. बिहार Bihar
5. छत्तीसगढ़ Chhattisgarh
6. गोवा Goa
7. गुजरात Gujarat
8. हरियाणा Haryana
9. हिमाचल प्रदेश Himachal Pradesh
10. जम्मू और कश्मीर Jammu And Kashmir
11. झारखंड Jharkhand 
12. कर्नाटक Karnataka
13. केरल Kerala
14. मध्य प्रदेश Madhya Pradesh
15. महाराष्ट्र Maharashtra
16. मणिपुर Manipur
17. मेघालय Meghalaya
18. मिजोरम Mizoram
19. नागालैंड Nagaland
20. उड़ीसा Orissa
21. पंजाब Punjab
22. राजस्थान Rajasthan
23. सिक्किम Sikkim
24. तमिलनाडु Tamil Nadu
25. त्रिपुरा Tripura
26. उत्तराखंड Uttarakhand
27. उत्तर प्रदेश Uttar Pradesh
28. पश्चिम बंगाल West Bengal
29. तमिलनाडु Tamil Nadu
30. त्रिपुरा Tripura
31. अंडमान और निकोबार द्वीप समूह Andaman And Nicobar Islands
32. चंडीगढ़ Chandigarh
33. दादरा और नगर हवेली Dadra And Nagar Haveli
34. दमन और दीव Daman And Diu
35. दिल्ली Delhi
36. लक्षद्वीप Lakshadweep
37. पांडिचेरी Pondicherry

निष्कर्ष

तो आपने समझा की State Specific ID किसी राज्य के सालो से निवासी होने को प्रमाणित करता हैं. जो e Sharm Card या अन्य document बनवाने के समय जरूरत पड़ती रहती हैं.

आशा करते है आपको ये जानकारी जरुर पसंद आया होगा. इसे आप अपने दोस्तों और परिवारों के साथ शेयर कर सकते हैं. और अन्य जांनकारी के लिए Hindisoftonic को फॉलो करें.

2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*