WWW ki khoj kisne ki – WWW की खोज किसने की थी

WWW,khoj kisne ki, avishkar
WWW ki khoj kisne ki

यदि आप भी जानना चाहते है कि www ki khoj kisne ki, www ki khoj kab hui तो आपको यहाँ से इसकी पूरी जानकारी मिलेगा. जिसे आप आसानी से पढ़ कर समझ सकते है कि WWW का अविष्कार किसने की थी ? ( Who discovered www ?

WWW वेब पेजों, चित्रों, वीडियो और सभी प्रकार की ऑनलाइन सामग्री का एक समूह है जिसे इंटरनेट पर एक्सेस किया जा सकता है. www को बोलचाल की भाषा में केवल “Web” के रूप में भी जाना जाता है. इंटरनेट और www दोनों अलग-अलग तकनीक हैं. लेकिन www URL में शामिल रहता है जैसे “https://www.hindisoftonic.com/”

आइये आपको बताते है कि WWW की खोज किसने की और वर्ल्ड वाइड वेब (WWW) की खोज क्यों की गयी? क्या आपको पता है

www ki khoj kisne ki – डब्लू डब्लू की खोज किसने की थी

WWW की खोज या आविष्कार एक ब्रिटिश वैज्ञानिक ‘Tim Berners-Lee’ ने 1989 में किया था. वे यूरोपीय परमाणु अनुसंधान संगठन, जेनेवा में काम करते थे, उसी समय WWW का आविष्कार किया था.

WWW का पूरा नाम (WWW full form) World Wide Web होता हैं. www के खोजकर्ता Tim Berners-Lee ने 6 अगस्त 1991 को आम जनता के लिए www का प्रदर्शन किया जबकि www को 23 अगस्त 1991 को सार्वजनिक रूप से उपलब्ध कराया गया.

WWW,khoj kisne ki, avishkar
WWW ki khoj kisne ki

1989 में Geneva, Switzerland में यूरोपीय परमाणु अनुसंधान संस्थान, CERN में काम करते हुए ऐसा किया. जिसे तीन साल बाद 1991 में शोध के बाहर एक अलग संस्थान के लिए सेवा में रखा गया था. फिर जब वेबसाइटें प्रचलन में आईं, तो 1993-94 में इसका पूर्ण उपयोग होने लगा।

WWW ki avishkar kisne ki

टिम बर्नर्स ली कौन है (Who is Tim Berners-Lee in hindi)

टिम बर्नर्स-ली का जन्म 8 जून 1955 को London, England में हुआ था, उनका पूरा नाम “Sir Timothy John Berners-Lee” हैं. और उनके माता-पिता भी कंप्यूटर वैज्ञानिक थे. वह ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएट हैं. उन्होंने 1990 में पहला web client और सर्वर कोड लिखा.

Tim Berners-Lee वर्तमान में वर्ल्ड वाइड वेब कंसोर्टियम (W3C) के निदेशक हैं. वह वैश्विक स्तर पर नेट न्यूट्रैलिटी (Net neutrality), निजता और खुले सरकारी डेटा के लिए अपनी आवाज उठाना जारी रखता है. उन्होंने HTML markup language और HTTP Protocol का आविष्कार किया.

www ki khoj kab hui – www की खोज कब हुई

वर्ल्ड वाइड वेब का आविष्कार या खोज 12 मार्च 1989 को हुई इसको ब्रिटिश वैज्ञानिक टिम बर्नर्स ली ने किया था.

WWW का अविष्कार किस देश ने किया?

1989 में Team Berners-Lee, CERN, Geneva, Switzerland में यूरोपीय परमाणु अनुसंधान संस्थान में काम करते हुए किया था.

वर्ल्ड वाइड वेब (WWW) की खोज क्यों की गयी?

वेब (www) को दुनिया भर के विश्वविद्यालयों और संस्थानों में वैज्ञानिकों के बीच स्वचालित सूचना-साझाकरण की मांग को पूरा करने के लिए शुरू किया गया था. जब टिम बर्नर्स-ली CERN (1989 में) में एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर के रूप में काम कर रहे थे, तब अलग-अलग कंप्यूटरों में अलग-अलग जानकारी होती थी. इस जानकारी तक पहुंचने के लिए सभी कंप्यूटरों को अलग-अलग इस्तेमाल करना पड़ता था. इंटरनेट की खोज ने उस समय के कंप्यूटरों को जोड़ना शुरू कर दिया था, लेकिन टिम बर्नर्स-ली (Tim Berners-Lee) ने Hypertext के माध्यम से सूचनाओं के आदान-प्रदान की नींव रखी.

टिम बर्नर्स-ली ने पहली बार मार्च 1989 में ‘Information Management: A Proposal’ नामक एक दस्तावेज में अपना विचार प्रस्तुत किया. सर्न संगठन के लिए वेब का विकास कभी भी आधिकारिक परियोजना नहीं थी. लेकिन Team Berners-Lee ने उन्हें इसे विकसित करने का समय दिया और उन्होंने ने NeXT computer का उपयोग करके इसे विकसित कर दिया .

विश्व की पहली वेबसाइट कौन सी थी और किसने बनाई थी?

दुनिया की पहली वेबसाइट ‘http//info.cern.ch’ है और 1991 को बर्नर्स ने विश्व को पहली बनाई?

जिस पर आप www [World Wide Web] की सारी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. बाद में, टीम बर्नर्स ली को html, http और url के मूल सिद्धांतों को लिखने का श्रेय भी मिला.

निष्कर्ष

दोस्तों, आज हम जान गए हैं कि www (world wide web) डब्ल्यू डब्ल्यू डब्ल्यू क्या होता है, कब और कहां, हर पहलू को विस्तार समझा (www ki khoj kisne ki) हैं.

आशा है कि आपको “WWW का आविष्कार किसने और कब किया” लेख पसंद आया होगा और आपको जानकारी मिल जाएगी, अगर आपको लेख पसंद आया है, तो इसे अपने दोस्तों के साथ सोशल मीडिया पर साझा करें।

About Hindisoftonic 324 Articles
i am Vicky kumar.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*